नया क्या?

बुधवार, 10 दिसंबर 2008

शुभकामनाएँ !!!

इस सेमेस्टर का आखिरी पोस्ट..

धुंध में धुंधलाती आँखों को,
पेपरों में कांपते हाथों को,
15 दिनों से चल रहे niteouts को,
sem के आखिरी लम्हातों को,
कह रहा हूँ..
टाटा, Gud Bye, सलाम..
X'Mas और नया साल हो आपका सुखद,
बस यही दुआ के साथ पहुंचे आप तक यह पैगाम |

कोशिश करूँगा छुट्टियों में कुछ लिख पाऊँ.
तब तक..
सायोनारा, आदाब, दसविदानियाँ...
[:)] . . .

2 टिप्‍पणियां:

  1. छुट्टीया अच्छी बीते.. शुभकामनाऐं

    उत्तर देंहटाएं
  2. beete lamhen
    ye sab yaadein acha hua tumne panktiyon mein piro diya....
    yaad rahenge ye pal bhi ...

    उत्तर देंहटाएं

ज़रा टिपिआइये..