नया क्या?

शनिवार, 6 दिसंबर 2008

क्या बिट्स की लड़कियों को "महा-घोट" की उपाधि दे दी जानी चाहिए ?

पोस्ट शुरू :

पोस्ट खत्म !!!

8 टिप्‍पणियां:

  1. अब आप कह रहे है तो फ़िर मना कैसे कर सकते हैं। अच्छा प्रयोग है।

    उत्तर देंहटाएं
  2. व्याख्यान नहीं सही, कुछ आड़ा-तिरछा कारण तो बताना ही चाहिये!

    उत्तर देंहटाएं
  3. अरे जनाब अगर यहाँ उल्लेख करूँगा तो कॉलेज में लड़कियां मारेंगी..
    फिलहाल नहीं कभी और कोशिश करूँगा [लड़कियों की नज़रों से बचकर]..
    टिपण्णी करने के लिए धन्यवाद..

    उत्तर देंहटाएं
  4. dude pratik kisi din BITS ki ladkiyaan tere ko sahi pakad kar marengi.... abe unse jyada pange mat le... :)

    उत्तर देंहटाएं
  5. kya baat kar rahe hain ujju bh....
    aapke hote hue bits ki ladkiyan to baal bhi baanka nahin kar sakti hain..kyon ?
    aur haan panga lene ka alag hi maza hai..ab nahin to kab ?

    उत्तर देंहटाएं
  6. ek baat kahoon...is concept ko chura loon apne blog ke liye?? :P

    mast tha...koi kaaran deke itna mazaa nahi aata jo ab aaya...

    उत्तर देंहटाएं
  7. chura lijiye janaab..koi panga nahin hai..koi patent to hai nahin in sab cheezon ka :P ...
    dhanywaad tippani karne ke liye..
    yunhi padhte rahiye..
    -shubhkamnaein

    उत्तर देंहटाएं

ज़रा टिपिआइये..