नया क्या?

रविवार, 21 सितंबर 2008

मैं MuE पॉज़िटिव हूँ

आज आपको दो ऐसे लोगों से मिलवाता हूँ जो 2 अलग-अलग बिमारियों से पीड़ित हैं :
पहला इंसान(A) HIV+ है और दूसरा(B) MuE का मारा MuE+ है :

उनके बीच एक वार्तालाप चल रही है :
A : क्या तुम्हें पता है, HIV होने के कारण क्या-क्या है ?
B : [थोड़ा हिचकिचाते हुए - भारतीय समाज की max जनता अभी भी इन सब मुद्दों के बारे में चुप्पी साधे हुए है] - हाँ हाँ पता है न..HIV होने के मुख्य कारण कुछ इस प्रकार हैं :
1.) Unprotective Sexual Relations
2.) Unsecure Blood Transfer
3.) From Mother to Baby
4.) Use of Unsterilized Syringes

A : भाई वाह यह तो काफ़ी अच्छी बात है की तुम्हे HIV के बारे में इतना कुछ पता है..

B : अच्छा HIV तो एक जगह है..क्या तुम्हें पता है मैं MuE+ कैसे हुआ..
A : [अचरज करते हुए] यह किस बिमारी का नाम है ??

B : [बहुत खुश हो के बताते हुए]...नहीं पता तो सुनो यह दर्द भरी कहानी...
MuE+ होने के मुख्य कारण कुछ इस प्रकार हैं :
1.) Unprotective MOS(exual) Relations
2.) Unsecure Discipline Transfer to A3/A8.
3.) From GHOT Senior to Ultra GHOT Junior
4.) Use of Unbiased Transistors

A : [दुःख जताते हुए] यह तो बहुत ही बुरा हुआ तुम्हारे साथ.
B : यह केवल मेरे साथ ही नहीं बल्कि तमाम 3rd year के EEE/EnI वालों के साथ हुआ है..
अगर अफ्रीका मैं हर 3 इंसान में से 1 इंसान HIV+ है तो यहाँ मालवीय भवन में हर 2 कमरों में से 1 MuE+ है..

A : यह तो बहुत ही बुरा हो रहा है तुम सभी लोगों के साथ..मुझे तुम लोगों से बहुत हमदर्दी है..
[B MuE के गुरु को याद करके सोच रहा है..यह देख HIV+ बन्दे की सहानुभूति भी हमारे साथ है...आख़िर हमने ऐसा कौन सा जुर्म किया है जो हमें MuE+ होने की सज़ा दे दी है..??.क्यों क्यों...]

A : अच्छा एक जानकारी और दे दूँ..
HIV इन सब कारणों से नहीं फैलता है :
1. Casual contacts,Shaking hands
2. Sharing utensils while eating together,Sharing of bathroom, toilet etc
3. Coughing, sneezing onto the face of any person..
4. Regular body tests...

B : अच्छा मैं भी एक जानकारी दे दूँ..
MuE इन सब कारणों से फैलता है :
1. Casual Chit-Chatting about MOS circuits..
2. Sharing computers of O-Lab...
3. Concentrating, sneaking into the MuE lectures every T/Th/Sat..
[includes extra class]
4. Regular MuE tuts/tests/labs/examinations..

A : अरे एक बात और..लोगों तक यह बात पहुँचा दो कि HIV+ भी आम लोगों कि तरह ही हैं..
और उन्हें बाकी लोगों की तरह प्यार और मोहब्बत मिलनी चाहिए..

B : मैं भी एक बात कहना चाहता हूँ कि MuE+ लोग आम लोगों की तरह नहीं हैं..
उन्हें बाकी लोगों से काफ़ी ज़्यादा प्यार,मोहब्बत और सांत्वना की ज़रूरत है..

A : अरे हाँ यह बिमारी कुछ सालों बाद AIDS में बदल जाती है जिसके बाद इंसान के बारे में अंदाजा लगाना मुश्किल हो जाता है..

B : लेकिन MuE+ किसी और बिमारी में नहीं बदलती है...आदमी के बारे में अंदाजा सेमेस्टर
के शुरुआत में ही पता चल जाता है...इंसान को कुछ 4.5 महीनों में ही NC लग जाता है जो कि
मरने से भी बुरा है..फिलहाल..

इसी बिमारी(MuE+) को लेकर फिलहाल कुछ 100-120 बच्चे जी रहे हैं..कृपया इन सभी लोगों के लिए प्रार्थना करते रहिये..आख़िर ये भी हमारे समाज का ही हिस्सा है..कुछ महान लोगों की गलतियों को ये बेचारे बच्चे क्यों भुगतें???

N.B. - इस article का श्रेय मेरे अलावा मेरे कुछ wingies को भी जाता है..हम सभी के विचारों को मैंने अपने ब्लॉग के ज़रिये आप सभी तक पहुँचाया है..
अगर किसी को इस article से ठेस पहुँची हो तो मैं उसके लिए माफ़ी चाहता हूँ....यह बिल्कुल भी personal नहीं है..

अगले ब्लॉग तक circuit बनाते रहिये, bias करते रहिये, source को drain,drain को gate और gate को source से जोड़ते रहिये और सबसे पहले MuE+ रहिये.

**** अगर आप मेरा ब्लॉग regularly पढ़ते हैं तो अनुयायी-Followers में ख़ुद को add कर लें..
-प्रतीक

5 टिप्‍पणियां:

  1. प्रतिक.. आपने कह दिया लेकिन..HIV जैसे विषय पर गम्भीरता बरतनी चहिये...

    उत्तर देंहटाएं
  2. @ रंजन
    नमस्ते सर,
    मैंने इस ब्लॉग को लिखने से पहले नेट पर HIV के बारे में जानकारी ली थी...
    और मैनें इस ब्लॉग के जरिये HIV के बारे में भी जागरूकता जगाने की कोशिश की है...
    HIV के कारण, ना फैलने वाले पहलू, लोगों के लिए प्यार जैसी बातों को भी उठाया है..
    वैसे आप मुझसे उम्र के साथ-साथ तजुर्बे में भी बड़े हैं...
    अगर कुछ गलती हुई हो तो माफ़ करें और मार्गदर्शन दें..
    -प्रतीक

    उत्तर देंहटाएं
  3. मैं पूर्ण रूप से आग्रह करता हूँ

    great work

    उत्तर देंहटाएं

ज़रा टिपिआइये..