नया क्या?

मंगलवार, 16 सितंबर 2008

बचाओ "कोई" तो बचाओ..

कल सुबह MuE का ट्यूट है और अभी सब कुछ लाइट लेने का मन कर रहा है और क्यों करे...
पढ़ के जाओ तो भी ZUC नहीं पढ़ के जाओ तो भी ZUC...आगे कुँआ पीछे खाई...
हे भगवान् कोई बचाओ MuE के इंस्ट्रक्टर से ....मैं भी पागल हूँ...भगवान् से कह रहा हूँ और आगे "कोई" लगा दिया..

MuE Fact फाइल :
1. यही एक कोर्स है जिसमें आप एक्जाम हॉल में सबसे ज़्यादा confidence के साथ जाते हैं और निकलते भी हैं..आख़िर क्यों नहीं ??? जब "ZUC" पक्का है तो क्या बाकी रहा...इसका मतलब MuE instills confidence in u...
2. इंस्ट्रक्टर चाहती है कि आप सेम भर MuE ही पढ़ें..बाकी हर कोर्स बकवास है..
3. इंस्ट्रक्टर का यह मानना है कि ज़िन्दगी में जिसने O-lab में 100-150 घंटे नहीं बिताए उसे मोक्ष कि प्राप्ति नहीं होगी..
4. आपकी ज़िन्दगी O-Lab के O से शुरू होकर O-Lab के O पर ही ख़त्म हो जाती है अगर आप EEE/EI में हों तो...zuc से शुरू हुई ज़िन्दगी zuc पे खत्म...
5. आगे अगर कोई कुछ जोड़ना चाहे तो आप से विशेष आग्रह है...जल्दी से जल्दी करें...

भगवान् "कोई" तो बचाए इस कोर्स से...
वो "कोई" और कोई नहीं पर ख़ुद हमारी इंस्ट्रक्टर ही है..
जय भवानी जय AG....
टाटा...चला मैं MuE पढने..
*एक बात बताऊँ....जब indic transliteration mein "MuE" type करके space मारते हैं तो "मुए" लिखा हुआ आता है..
how appropriate Mr.Google...hats off !!!!

-प्रतीक

4 टिप्‍पणियां:

  1. यार तुमने तो दिल की बात कह दी. साधू आज तुमने हर इलेक्ट्रानिक्स के मारे हुए के हृदय को छू लिया है . बहुत ही अच्छा पोस्ट है . इसी जोश और उत्साह के साथ लिखते रहा करो आख़िर दुनिया को भी हमारा दर्द पता चलना चाहिए .
    Excellent work man :)
    keep it up .

    उत्तर देंहटाएं
  2. arey yaar tumne mujhe mushkil main dhal diya.
    Mewe ke baare mein itna sunne ke baad tumne mewe ko apshabd("gaali") dene ki meri iccha ko bharka diya . Kher comment mein to nahin likh raha par " bhavnaon ko samajhna".
    Bahut badiya vivran ek shatru ka. Acchi vivran se hi acchi rann niti banegi jiska upyog har ek sainik kar sakega

    उत्तर देंहटाएं

ज़रा टिपिआइये..